Sensitive teeth and bad breath

sensitive teethLet it be sensitive teeth and bad breath or pyorrhoea, this panacea can cure many dental diseases. try it out! ( Scroll down to read the post in Hindi )

Remedy : Grind rock salt (white) like flour and sieve it using a cloth. Mix mustard oil into this salt. The ratio of salt : oil should be 1 : 4 .

Method : Massage the gums gently with the drops of this salted mustard oil using finger daily in the morning. Now apply remaining thick paste-like salt on the teeth. Scrub a little using finger and mouthwash with lukewarm or normal water immediately.

It is the trusted remedy for sensitive teeth . If you continue doing this for few days than the teeth sensitivity to cold, hot or sour will be gone. Tooth mobility, toothache and gums bleeding will be stopped. Teeth will become stronger. This remedy makes your teeth clean, white and bright. It can cure Pyorrhea and protect the teeth against all diseases.

Special :

  1. If you want you can mix turmeric also with rock salt mustard oil.
  2. Brushing with with neem twig regularly also prevents many dental diseases.
  3. Always keep the top and down teeth clenched together while urinating and passing stools. This prevents teeth mobility.
  4. One should not eat very hot or cold foods.
  5. One must do mouthwash after eating/drinking lemon.
  6. In case of toothache, peel the ginger into small pieces. Press it between the teeth and suck the juice. It will reduce the pain.

Remedy of bad breath:

  1. Chewing a clove after meals daily can help reducing the bad breath.
  2. Chewing half a teaspoon of fennel seeds after meals not only prevents bad breath but also improves the digestion.
  3. Mix grinded mint leaves into water and rinse your mouth with this mint water daily in the morning and evening. This DIY mouthwash helps prenvting bad breath.
  4. One must brush the teeth two times daily, in the morning and before going to bed.
  5. One must go to a good dentist for teeth cleaning once a year.

Read the post in Hindi below :

दांतों की बिमारियों में रामबाण

विधि : सैंधा नमक को मैदा की तरह बारीक पीसकर कपड़े से छान लें | इसमें चार गुना सरसों का तेल डाल दें | उंगली की सहायता से इस नमकीन तेल की बूंदों से मसूड़ों की हल्के-हल्के रोजाना प्रातःकाल भली प्रकार मालिश करें । फिर तेल से भीगा हुआ नमक दांतों और दाढ़ों पर लेप की तरह उंगली से लगाकर थोड़ा रगड़कर फ़ौरन सादे या गुनगुने पानी से कुल्ला कर लें ।

ऐसा लगातार कुछ दिन करने से दाँतो में ठंडा, गरम या खट्टा लगना समाप्त हो जाता है । हिलते हुए दांत मज़बूत हो जाते हैं । दांत साफ़ और चमकदार हो जाते हैं । दांतों के कीड़े नष्ट हो जाते हैं । दांत का दर्द और मसूड़ों से खून निकलना बंद हो जाता है । पायरिया नष्ट हो जाता है तथा दांतों के समस्त रोगों से बचाव होता है ।

विशेष :

  1. आप यदि चाहें तो इस प्रयोग में सैंधा नमक और सरसों के तेल के साथ हल्दी भी मिला सकते हैं ।
  2. नीम की टहनी से नियमित दातुन करने से भी दाँतो का कोई रोग नहीं होता ।
  3. मल-मूत्र त्यागते समय सदैव ऊपर नीचे के दाँतो को भींच कर रखने से दांत जीवन भर नहीं हिलते ।
  4. अधिक गर्म या ठंडे पदार्थों का सेवन नहीं करना चाहिए ।
  5. नींबू खाने के बाद कुल्ला अवश्य करना चाहिए ।
  6. अदरक को छीलकर उसके छोटे-छोटे टुकड़े दाँतो के बीच में दबाकर उसका रस चूसने से कई तरह के दाँतो के दर्द मिटते हैं ।

मुँह की दुर्गन्ध:

  1. एक लौंग मुँह में रखकर रोज़ भोजन के बाद चबाने से मुँह की दुर्गन्ध दूर होती है ।
  2. खाना खाने के बाद आधा चम्मच सौंफ चबाने से न केवल मुँह की दुर्गन्ध दूर होती है बल्कि पाचन भी सही होता है ।
  3. पुदीने की पत्तियों को पीसकर पानी में मिलाकर इस पानी से सुबह शाम कुल्ला करने से भी मुँह में ताज़गी महसूस होती है ।
  4. रोज़ाना प्रातःकाल एवं सोने से पहले दातुन अवश्य करना चाहिए ।
  5. वर्ष में एक बार किसी अच्छे दन्त चिकित्सक से दाँतो की सफाई अवश्य करवानी चाहिए ।
share this!
Share On Twitter
Share On Linkedin
Share On Youtube
Contact us
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (2 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading...
Show Buttons
Share On Facebook
Share On Twitter
Share On Google Plus
Share On Linkedin
Share On Youtube
Contact us
Hide Buttons
error: Copy Protected!!